Wednesday, January 23, 2019

Military Exercises (भारत और अन्य देशों बीच आयोजित सैन्य अभ्यास )

यहां भारत और अन्य देशों की सेनाओं के बीच आयोजित किए गए सैन्य अभ्यास का विवरण दिया गया है। वर्ष 2018 के दौरान भारत और अन्य देशों की सेनाओं के बीच जो 20 सैन्य अभ्यास आयोजित किए गए थे उनका पूरा विवरण यहां दिया गया है।
इन सैन्य अभ्यासों से अलग अलग परीक्षा में काफी प्रश्न पूछे जाते हैं। अगर आप इनका अच्छे से ध्यान रखते हैं तो इसका लाभ आपको कहीं ना कहीं जरूर दिखेगा।

अलग-अलग देशों की सेनाओं के बीच आयोजित किए जाने वाले सैन्य अभ्यास ओं का मुख्य उद्देश्य आपस में तकनीकी और अन्य कौशल साझा करना होता है। इसके साथ साथ देशों में आपसी सद्भावना भी बढ़ती है।


भारत व अन्य देशों की सेनाओं के बीच आयोजित सैन्य/युद्ध अभ्यास-



1- भारत जापान तटरक्षक बलों का आठवां द्विवार्षिक सैन्य अभ्यास -


  • भारत-जापान तटरक्षक बलों के बीच चेन्नई के समीप बंगाल की खाड़ी में खोज एवं बचाव अभ्यास आयोजित किया गया।
  • 16-17 जनवरी 2018 को भारतीय तटरक्षक और जापान कोस्ट गार्ड के बीच द्विवार्षिक खोज एवं बचाव अभ्यास का 8 वां संस्करण संपन्न हुआ।
  • इस सैन्य अभ्यास में भारत और जापान के तटरक्षक बलों के पोतों और विमानों के अलावा भारतीय नौसेना, भारतीय वायु सेना तथा राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान चेन्नई ने भी भाग लिया।



2- 'बिनबैक्स 2018' संयुक्त सेना अभ्यास-



  • 29 जनवरी से 3 फरवरी 2018 के बीच मध्य प्रदेश के जबलपुर में भारत और वियतनाम के बीच सैन्य अभ्यास आयोजित किया गया।
  • यह दोनों देशों के बीच पहला सैन्य अभ्यास था इस सैन्य अभ्यास का उद्देश्य विपक्षी रक्षा सहयोग को बढ़ावा देना था।
  • भारत और वियतनाम ने वर्ष 1994 में रक्षा सहयोग प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किए थे।




3- 'पश्चिम लेहेर' अभ्यास -



  • भारतीय नौसेना की पश्चिमी नौसेना कमांड द्वारा अरब सागर में पश्चिम लहर नामक विशाल सामरिक अभ्यास 1 मार्च 2018 को पूरा किया।
  • इस अभ्यास में 40 से अधिक नौसैनिक परिसंपत्तियों, पनडुब्बीया, पेट्रोल जलयान, तथा भारतीय तटरक्षक शामिल हुए।
  • इस अभ्यास के दौरान भारतीय वायु सेना ने भी भाग लिया।



4- वरुण 2018 -


  • भारत तथा फ्रांस के बीच संयुक्त नौसैनिक अभ्यास 'वरूण 2018' का आयोजन 19 से 24 मार्च 2018 के बीच किया गया।
  • इस 9 सैन्य अभ्यास की शुरुआत वास्कोडिगामा (गोवा) से की गई।
  • इस अभ्यास के दौरान पनडुब्बी आईएनएस कलवरी तथा मिग -29 के लड़ाकू विमान भी शामिल किए गए।
  • इस अभ्यास का दूसरा चरण अप्रैल-मई 2018 माह के दौरान चेन्नई तथा रीयूनियन में संपन्न हुआ।
  • वरुण नौसैनिक अभ्यास की शुरुआत वर्ष 2001 में प्रारंभ की गई थी।
  • भारत और फ्रांस के बीच पहला नौसैनिक अभ्यास 1983 में आयोजित किया गया था।



5- सहयोग- हायबलियोग 2018 अभ्यास -


  • चेन्नई के तट पर भारत और दक्षिण कोरिया के तटरक्षक बलों के बीच संयुक्त रुप से 'सहयोग-हाइब्लोयोग 2018' नामक युद्धाभ्यास 5 अप्रैल 2018 को आयोजित किया गया।
  • एंटी पायरेसी खोज एवं बचाव से संबंधित केस अभ्यास में भारतीय तटरक्षक बल की ओर से डॉर्नियर, आईसीजी- शौर्य, रानी अब्बाक्का, C-423, सी-431 ने भाग लिया। जबकि दक्षिण कोरिया की ओर से तटरक्षक पोत वैडोरो शामिल हुआ।
  • इस संयुक्त अभ्यास का उद्देश्य कामकाजी सहयोग विकसित करना था।



5- आपदा प्रबंधन अभ्यास 'चक्रवात'-


  • भारतीय नौसेना द्वारा केरल राज्य सरकार के साथ समन्वय में कोचीन नेवल बेस पर अप्रैल 2018 के मध्य चार दिवसीय आपदा प्रबंधन अभ्यास का आयोजन किया गया इस अभ्यास को 'चक्रवात' नाम दिया गया था।
  • भारतीय नौसेना की दक्षिणी कमान और केरल राज्य सरकार द्वारा आयोजित इस संयुक्त अभ्यास का मुख्य उद्देश्य चक्रवात जैसी प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावी ढंग से निपटना था।



6- 'गगन शक्ति' सैन्य अभ्यास-


  • भारतीय वायु सेना ने 8 से 22 अप्रैल 2018 के बीच गगन शक्ति सैन्य अभ्यास का आयोजन जोधपुर (राजस्थान) के एयरबेस में किया।
  • इस सैन्य अभ्यास में 600 लड़ाकू विमान शामिल हुए।
  • इस सैन्य अभ्यास में 3 महिला फाइटर अवनी चतुर्वेदी, मोहना सिंह, तथा भावना कांता ने हिस्सा लिया।




7- 'हरिमऊ शक्ति 2018' सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास-


  • भारत तथा मलेशिया के बीच 'हरीमऊ शक्ति 2018' नामक सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास 30 अप्रैल से 13 मई 2018 के बीच आयोजित किया गया।
  • इस सैन्य अभ्यास का आयोजन शंगाई पैट्रिक, हुलु लंगत (मलेशिया) में किया गया।
  • इस सैन्य अभ्यास के आयोजन का मुख्य उद्देश्य दोनों देशों के बीच सैन्य तथा सुरक्षा संबंधों को अधिक प्रभावी बनाना था।



8- 'विजय प्रहार' युद्धाभ्यास-


  • भारतीय सेना का विजय प्रहार युद्धाभ्यास जैसलमेर राजस्थान की महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में 9 मई 2018 को संपन्न हुआ।
  • इस युद्धाभ्यास में 20,000 से अधिक सैनिकों ने पूरे हथियारों और साजो सामान के साथ भाग लिया।
  • इस युद्धाभ्यास के दौरान परमाणु हमले से निपटने के लिए भी कई तरह के अभ्यास किए गए।



9- 'मालाबार 2018' नौसेना अभ्यास-


  • 17 से 16 जून 2018 के बीच भारत जापान और यूएसए के बीच 'मालाबर 2018' नामक 9 सैन्य अभ्यास आयोजित किया गया।
  • इस नौसैनिक अभ्यास का आयोजन संता रिता गुआम (यूएसए) में किया गया।
  • इस नौसैनिक अभ्यास के दौरान एंटी-सबमरीन वारफेयर अभियान के साथ कंबाइंड कैरियर स्ट्राइक अभियान का प्रशिक्षण तथा अभ्यास सत्र आयोजित किया गया।
  • यूएसए द्वारा हवाई द्वीप में स्थित अपने पेसिफिक कमांड को इंडो-पेसिफिक कमांड नाम देने के बाद यह पहला नौसैनिक अभ्यास था।



10- त्रिपक्षीय नौसैनिक अभ्यास 'मालाबार 18'-


  • 6 से 7 जून 2018 के बीच 'मालाबार 18' भारत, यूएसए और जापान के नौ सेनाओं के बीच आयोजित किया गया।
  • इस संयुक्त नौसैनिक अभ्यास का आयोजन यूएसए के अधीन गुआम द्वीप पर भारत, जापान और यूएसए के बीच किया गया।
  • इस नौसैनिक अभ्यास का हार्वर चरण 7 से 10 जून के दौरान तथा समुद्री चरण 11 से 16 जून 2018 के दौरान संपन्न हुआ।
  • यह नौसैनिक अभ्यास भारत और यूएसए के बीच 1992 में शुरू हुआ था, लेकिन 2015 से जापान भी इस नौसैनिक अभ्यास का स्थाई पार्टनर बन गया है।



11- 'पिच ब्लैक 2018' वायु सेना अभ्यास-


  • इस वायु सैनिक अभ्यास का आयोजन मध्य नॉर्दन टेरिटरी (ऑस्ट्रेलिया) में 27 जुलाई से 17 अगस्त 2018 के मध्य संपन्न हुआ।
  • इस अभ्यास में कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, भारत, जापान, न्यूजीलैंड, इंडोनेशिया, फिलिपींस, दक्षिण कोरिया, यूएसए तथा अन्य देशों के 4000 से अधिक सैनिक शामिल हुए।



12- 'रैपिड ट्राइडेंट 2018' संयुक्त सैन्य अभ्यास-


  • 3 से 5 सितंबर 2018 तक रैपिड ट्राइडेंट नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास का आयोजन यूक्रेन में किया गया।
  • इस सैन्य अभ्यास के दौरान 14 देशों के लगभग 22 सौ से अधिक सैनिकों ने भाग लिया।



13- भारत-श्रीलंका नौसैनिक अभ्यास-


  • 7 से 13 सितंबर 2018 के बीच त्रिंकोमाली (श्रीलंका) मध्य भारत और श्रीलंका की नौसेना के बीच संयुक्त नौसैनिक अभ्यास आयोजित किया गया। 
  • इसे SLINEX 2018 नाम दिया गया ।
  • इस अभ्यास में दोनों देशों के लगभग 1000 नौसैनिकों ने भाग लिया।



13- प्रथम बिम्सटेक सैन्य अभ्यास-


  • पुणे महाराष्ट्र में 10 से 16 सितंबर 2018 के बीच बिम्सटेक सेना अभ्यास का आयोजन किया गया।
  • इसमें बिम्सटेक के 2 सदस्य देशों नेपाल तथा थाईलैंड ऐसा नहीं लिया।
  • बिम्सटेक सैन्य अभ्यास में अर्द्ध-शहरी वातावरण के अंतर्गत आतंकवाद रोधी अभियानों के प्रशिक्षण तथा अभ्यास को प्राथमिकता दी गई।



14- काकाडू 2018 युद्धाभ्यास-


  • भारतीय नौसेना ने 15 सितंबर 2018 को ऑस्ट्रेलिया के डार्विन तट पर संपन्न का कालू 2018 नौसेना अभ्यास में बेहतर प्रदर्शन करते हुए ककाडू कप 2018 प्राप्त किया।
  • 29 अगस्त से 15 दिसंबर 2018 के बीच आयोजित का काडू सैन्य युद्धाभ्यास में 27 देशों की 9 सेनाओं ने हिस्सा लिया।
  • काकाडू 2018 नोट सैन्य अभ्यास का मुख्य उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाते हुए मुक्त तथा खुली वैश्विक अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहित करना।
  • इस नौसेना अभ्यास के 14वें संस्करण में 23 युद्ध पोतों तथा 250 नौ सेना के जवानों ने हिस्सा लिया।
  • काकाडू नौसेना अभ्यास 1993 से प्रत्येक वर्ष आयोजित किया जाता है।
  • इस नौसैनिक युद्धाभ्यास का नाम, काकाडू राष्ट्रीय उद्यान से लिया गया है जो उत्तरी ऑस्ट्रेलिया में डार्विन से 171 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में स्थित है।



15- वोस्टोक 2018 सैन्य अभ्यास-


  • 11 से 17 सितंबर 2018 के मध्य वोस्टॉक 2018 सैन्य अभ्यास आयोजित किया गया।
  • इस सैन्य अभ्यास का आयोजन रूस के सुदूर पूर्व और प्रशांत महासागर में आयोजित किया गया।
  • वोस्टोक 2018 में रूस की थल सेना वायु सेना और नौसेना के लगभग 300000 कर्मियों और सैनिकों ने हिस्सा लिया। इसके साथ साथ इसमें चीन और मंगोलिया ने भी हिस्सा लिया।
  • वोस्टॉक सैन्य अभ्यास का आयोजन प्रत्येक 4 वर्ष के अंतराल पर किया जाता है।



16- 'सागरमाथा फ्रेंडशिप 2018' सैन्य अभ्यास-


  • चीन के चेंगदू में 17 से 28 सितंबर 2018 के मध्य चीन और नेपाल का संयुक्त आतंकवाद विरोधी सैन्य अभ्यास आयोजित किया गया इससे सागरमाथा फ्रेंडशिप 2018 नाम दिया गया।
  • इस सैन्य अभ्यास का मुख्य उद्देश अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के खिलाफ संयुक्त रूप से लड़ना था।



17- JIMEX 2018 समुद्री अभ्यास-


  • 17 से 15 अक्टूबर 2018 तक विशाखापट्टनम के आंध्र प्रदेश में भारत और जापान के मध्य द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास 'JIMAX 2018' का आयोजन किया गया।
  • यह इस समुद्री अभ्यास का तीसरा संस्करण था।
  • जनवरी 2012 में पहली बार आयोजित JIMAX ( जापान इंडिया मैरिटाइम एक्सरसाइज) का उद्देश्य दोनों देशों की 9 सेनाओं के बीच सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना है।



18- सैन्य अभ्यास 'धर्म गार्जियन 2018'-


  • 1 से 14 नवंबर 2018 तक भारत और जापान सेना के मध्य संयुक्त सैन्य अभ्यास धर्म गार्जियन 2018 का आयोजन किया गया।
  • यह दोनों देशों की स्थल सेनाओं के बीच हुआ पहला अभ्यास था।
  • इस संयुक्त अभ्यास के तहत शहरी एवं अर्द्ध-शहरी क्षेत्रों में इलाकों में उग्रवाद एवं आतंकवादी घटनाओं से निपटने के लिए सैन्य बलों को प्रशिक्षित एवं संबंधित क्षमता से लैस या मुक्त करने पर ध्यान केंद्रित किया गया।



19- कोंकण 2018 युद्धाभ्यास-


  • भारत और ब्रिटेन के मध्य राजनीतिक अस्थिरता और आर्थिक समृद्धि को बढ़ावा देने तथा समुद्री इलाकों की सुरक्षा के लिए दोनों देशों के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास 'कोकण 2018' गोवा में शुरू किया गया।



20- 'शिन्यु मैत्री' युद्धाभ्यास-


  • 3 से 7 दिसंबर के मध्य भारत की वायुसेना और जापान की ईयर सेल्फ डिफेंस फोर्सेस के मध्य सिंन्यू मैत्री 2018 युद्धाभ्यास का आयोजन आगरा उत्तर प्रदेश में किया गया
  • इस युद्धाभ्यास की थीम - परिवहन एयरक्राफ्ट पर सहमति/ मानवीय सहायता एवं आपदा राहत थी।



21- नौसैनिक अभ्यास दोस्ती-14


  • 26 से 28 नवंबर 2018 तक मालदीव भारत और श्रीलंका के बीच संयुक्त नौसैनिक अभ्यास दोस्ती 14 आयोजित किया गया इस अभ्यास का उद्देश्य हिंद महासागर का बचाव एवं सुरक्षा करना था ।
  • इसमें तीनों देशों के लगभग 20 नौसैनिक अधिकारियों ने भाग लिया । ज्ञात हो कि यह एक त्रिपक्षीय नौसैनिक अभ्यास दोस्ती का 14वां संस्करण था। 'दोस्ती' नौसैनिक अभ्यास की शुरुआत 1992 में की गई थी। तब से यह प्रत्येक 2 वर्ष में एक बार आयोजित किया जाता है।



22- SIMBEX 2018 नौसैनिक अभ्यास-


  • इंडिया सिंगापुर मैरिटाइम बाय लेटरल एक्सरसाइज के 25 वें संस्करण की रजत जयंती के अवसर पर भारत और सिंगापुर के बीच अंदमान निकोबार द्वीप समूह में नौसैनिक अभ्यास आयोजित किया गया।
  • इस अभ्यास का हार्बर फेज पोर्ट ब्लेयर में तथा सी-फेस अंडमान सागर में संपन्न हुआ।



23- संयुक्त सैन्य अभ्यास केंद्र 2018-


  • भारत और रूस के बीच सैन्य अभ्यास 'इन्द्र2018' का आयोजन 18 से 28 नवंबर 2018 में झांसी, उत्तर प्रदेश के बबीना छावनी में आयोजित किया गया ।
  • इस 11 दिवसीय अभ्यास में रूसी संघ की पांचवी बटालियन और भारत की इन्फेंट्री बटालियन ने भाग लिया।
  • संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में उग्रवाद से निपटने के उद्देश्य से आयोजित इस संयुक्त सैन्य अभ्यास का विषय दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण समकालीन सैन्य एवं सुरक्षा मुद्दे था।



24- क्लीन सी 2018 अभ्यास-


  • भारतीय तटरक्षक बल ने पोर्ट ब्लेयर में क्लीन सी 2018 का आयोजन किया। इस आयोजन का उद्देश्य समुद्र में तेल के फैलाव की घटना से निपटने के लिए अभ्यास करना था।
  • यह अभ्यास नेशनल ऑयल स्पिल डिजास्टर कंटीन्जेसी प्लांट हिस्सा है। इस अभ्यास का आयोजन दो चरणों में किया गया ।
  • इस अभ्यास में भारतीय तटरक्षक बल के आईसीजी प्रदूषण नियंत्रण वेसल तथा आईसीजी डोर्नियर व  चेतक हेलीकॉप्टर का उपयोग हवाई सर्वेक्षण में किया गया।
  • तीन फैलाव की घटना के लिए नेशनल ऑयल स्पिल डिजास्टर कंटीन्जेसी प्लांट की स्थापना की गई।


25- वज्र प्रहार 2018-


  • बीकानेर राजस्थान स्थित महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में 2 दिसंबर 2018 को सैन्य अभ्यास वज्र प्रहार 2018 संपन्न हुआ। इस 14 दिवसीय संयुक्त सैन्य अभ्यास में भारत और यूएसए की विशेष बलों के जवानों अधिकारी शामिल हुए।
  • दोनों देशों के सशस्त्र बलों की अंतर संचालन क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित इस सैन्य अभ्यास के दौरान हरद रेगिस्तान और ग्रामीण परिस्थितियों में कठोर संयुक्त प्रशिक्षण दिया गया।



26- हैंड इन हैंड युद्धाभ्यास-


  • 10 से 23 दिसंबर 2018 के बीच चीन के चेंगदू में आयोजित भारत एवं चीन का संयुक्त युद्धाभ्यास 23 दिसंबर 18 को समाप्त हुआ । इस अभ्यास में भारत का प्रतिनिधित्व कर्नल पुनीत प्रताप सिंह तोमर तथा चीनी सेना का नेतृत्व कर्नल झोऊ जून  ने किया।
  • इस युद्धाभ्यास में शहरी आतंकवाद तथा शहरी वातावरण में आतंकवादियों द्वारा बंधक बनाए गए लोगों को बचाने के लिए ड्राइविंग कौशल तथा ड्राइविंग फायरिंग का बल प्रदान किया गया।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं में आपसी संबंध में पढ़ना तथा आतंकवाद विरोधी ऑपरेशन हेतु प्रशिक्षित करना था।



यह भी जानकारी भारत तथा अन्य देशों के मध्य आयोजित किए गए युद्धाभ्यासों की। अगर ऊपर दिए गए जानकारी से आपको कोई भी शिकायत या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं।










Previous Post
Next Post
Related Posts

0 comments: